Maharashtra Politics: उद्धव गुट को बड़ा झटका

0
4

मुंबई: ममुंबई में दहशरा रैली से पहले उद्धव गुट को बड़ा झटका लगा है। मुंबई के वर्ली इलाके से बड़ी संख्या में शिवसेना  कार्यकर्ता रविवार को सीएम एकनाथ शिंदे के सरकारी आवास पर शिंदे गुट में शामिल हो गए हैं। शिवसेना के दोनों गुटों की दशहरा रैली रैली पांच अक्टूबर को मुंबई के शिवाजी पार्क में होगी। इस रैली में शक्ति प्रदर्शन के लिए शिवसेना के दोनों गुट तैयारी में जुटे हैं।

शिवसेना के दोनों गुट दशहरा रैली में अपनी-अपनी राजनीतिक ताकत दिखाने का अवसर नहीं चूकना चाहते हैं। इसलिए दोनों धड़े पांच अक्टूबर को होने वाले इस आयोजन में अधिकाधिक भीड़ जुटाने का इंतजाम करने में जुट गए हैं। उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे के खेमों में भीड़ प्रबंधन की होड़ लग गई है। ठाकरे की रैली में पार्टी के शाखा प्रमुख और जिला प्रमुख पर सब निर्भर करता है।

वहीं, शिंदे की रैली में भीड़ बढ़ाने के लिए विधायकों और सांसदों का भरपूर जोर है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री शिंदे के कैंप की प्रवक्ता शीतल महात्रे ने शुक्रवार को बताया कि यह अब तक की सबसे बड़ी रैली होगी। मुंबई वासियों को भीड़ और ट्रैफिक से कोई परेशानी नहीं होगी।

सूत्रों का कहना है कि शिंदे खेमे में सभी विधायकों और सांसदों को कम से कम दो हजार से तीन हजार लोग रैली में लाने को कहा गया है। शिंदे के खेमे में 40 विधायक और 12 सांसद हैं। इसी तरह उद्धव ठाकरे के खेमे की प्रवक्ता किशोरी पेडनेकर ने कहा कि शिवसेना के लिए हमेशा से दशहरा रैली एक त्योहार की तरह रही है। कार्यकर्ता पूरे महाराष्ट्र से आते हैं और इस साल भी शिवाजी पार्क आएंगे। सूत्रों के अनुसार, मुंबई के सभी शाखा प्रमुखों को कम से कम 150 लोग लाने को कहा गया है।