महाराष्ट्र मंत्रिमंडल का विस्तार,आयोजन में उद्धव शामिल नहीं हुए

0
139

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आज अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर 11 नए मंत्रियों का शामिल किया. इनमें से 10 नए चेहरे हैं. इस विस्तार में शिवसेना के किसी नेता को कैबिनेट दर्जा नहीं मिलने से पार्टी नाराज बताई जा रही है.
केंद्रीय मंत्रिमंडल में हुए फेरबदल में तो शिवसेना की सिरे से उपेक्षा की गई थी. लेकिन, फडणवीस ने शिवसेना के दो विधायकों को राज्यमंत्री का दर्जा दिया है. बहरहाल, बीजेपी ने शिवसेना के किसी नेता को कैबिनेट मंत्री का दर्जा देने की पार्टी की मांग को नहीं माना.
आज सुबह विधानभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की गैरमौजूदगी से पार्टी की नाराजगी बिलकुल स्पष्ट थी. छह विधायकों ने कैबिनेट मंत्री के बतौर शपथ ली उनमें से एक राम शिंदे को गृह राज्यमंत्री (ग्रामीण) के पद से पदोन्नत कर कैबिनेट मंत्री बनाया गया है.
शिवसेना के मराठवाड़ा क्षेत्र के जालना से विधायक अजरुन खोतकर और उत्तरी महाराष्ट्र के जलगांव से विधायक गुलाबराव पाटिल को कनिष्ठ मंत्री बनाया गया है. पाटिल बीजेपी के पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से के गृह नगर जलगांव से हैं. जबकि खोतकर बीजेपी की राज्य इकाई के अध्यक्ष रावसाहब दानवे के गृह जिल जालना से हैं.
बीजेपी की चुनाव पूर्व सहयोगी स्वाभिमानी पार्टी के सादाभाउ खोत और राष्ट्रीय समाज पार्टी (आरएसपी) के महादेव जानकर ने भी शपथ ली है. जानकर कैबिनेट मंत्री बने हैं. कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण करने वाले बीजेपी के विधायकों में राज्य इकाई के पूर्व अध्यक्ष पांडुरंग फुंडकर, डौंडेचा (धुले) से विधायक जयकुमार रावल, निलांगा से सांभाजी पाटिल निलांगेकर और सोलापुर से विधायक सुभाष देशमुख शामिल हैं.
बीजेपी के विधायक रविंद्र चव्हाण और मदन येरावर ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली है. इसके साथ ही बीजेपी से 6, स्वाभिमानी शेतकरी संगठन और राष्ट्रीय समाज पक्ष से एक-एक मंत्री बनाए गए हैं. शपथ ग्रहण के दौरान मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ-साथ पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे.
मंत्री बनने के संभावितों की लिस्ट में पहले से ही कुछ लोगों के नाम चल रहे थे. इनमें लातूर से संभाजीराव निलंगेकर, धुले से जयकुमार रावल, सोलापुर दक्षिण से सुभाष देशमुख, विधान परिषद सदस्य पांडूरंग फुंडकर, डोंबिवली से रवींद्र चव्हाण, यवतमाल से मदन येरावर, जलगांव से शिवसेना विधायक गुलाबराव पाटिल जालना से शिवसेना विधायक अर्जुन खोतकर, स्वभिमानी शेतकरी संगठन के विधान परिषद सदस्य सदाभाऊ खोत और राष्ट्रीय समाज पक्ष के विधान परिषद सदस्य महादेव जानकर शामिल हैं.
महाराष्ट्र की देवेंद्र फडणवीस मंत्रिपरिषद में आज होने वाले विस्तार में पहले ही साफ हो गया था कि शिवसेना के दो विधायक बतौर मंत्री शामिल किए जाएंगे. इससे इन अटकलों पर विराम लग गया था कि दोनों सत्ताधारी साझेदारों के रिश्तों में बढ़ती खटास के बीच क्या उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली पार्टी मंत्रिपरिषद विस्तार की कवायद में शामिल होगी.
मुख्यमंत्री फडणवीस ने अपने कोटे से राज्य मंत्री बनाए गए सभी मौजूदा मंत्रियों को कैबिनेट रैंक में तरक्की देने की शिवसेना की मांग खारिज कर दी थी. क्योंकि पार्टी के दो नए विधायकों को मंत्री पद दिए जाने का फैसला हुआ था. शपथ से पहले इस बाबत अटकलों का बाजार गर्म रहा कि मंत्रिपरिषद विस्तार में शिवसेना हिस्सा लेगी कि नहीं. ये अटकलें इसलिए लगाई जा रही थीं क्योंकि पिछले दिनों केंद्रीय मंत्रिपरिषद के विस्तार के दौरान पार्टी को एक भी मंत्री पद नहीं दिया गया था.