G-20 सम्मेलन के लिए विदेशी राष्ट्राध्यक्षों के दिल्ली पहुंचने का सिलसिला शुरू

0
44

G-20 शिखर सम्मेलन को लेकर राजधानी दिल्ली में जोरदार तैयारी की गई है। कड़ी ाुरक्षा के बीच विदेशी राष्ट्राध्यक्ष दिल्ली पहुंच रहे हैं। मेहमानों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो चुका है। सम्मेलन का आयोजन प्रगति मैदान के भारत मंडपम में होगा. इस सम्मेलन में शामिल होने के लिए कई मेहमान दिल्ली पहुंच चुके हैं। वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भारत के लिए रवाना हो गए।

इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी जी20 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए दिल्ली पहुंच गईं. कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री शोभा करंदलाजे ने उनका स्वागत किया. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विदेशी नेताओं के साथ 15 से अधिक द्विपक्षीय बैठकें करेंगे. जानकारी के मुताबिक वे 8 सितंबर को पीएम मॉरीशस, बांग्लादेशी और अमेरिका के नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे. 9 सितंबर को जी20 बैठकों के अलावा पीएम यूके, जापान, जर्मनी और इटली के साथ द्विपक्षीय बैठकें करेंगे और 10 सितंबर को पीएम फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन के साथ वर्किंग लंच मीटिंग करेंगे.

कनाडा पीएम के साथ एक अलग बैठक करेंगे और कोमोरोस, तुर्किये, संयुक्त अरब अमीरात, दक्षिण कोरिया, ईयू/ईसी, ब्राजील और नाइजीरिया के साथ द्विपक्षीय बैठकें करेंगे. अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज जी20 शिखर सम्मेलन के लिए दिल्ली पहुंचे. विश्व के नेताओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो चुका है. आज शाम तक तमाम नेता पहुंच जाएंगे.

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की प्रबंध निदेशक क्रिस्टालिना जॉर्जीवा जी20 शिखर सम्मेलन के लिए दिल्ली पहुंचीं. इससे पहले यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन दिल्ली पहुंचीं.यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन जी20 शिखर सम्मेलन के लिए दिल्ली पहुंचीं. केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने उनका स्वागत किया. इस दौरान भव्य कार्यक्रम पेश किया गया. इस सम्मेलन में शामिल होने के लिए नेताओं का आगमन शुरू हो गया है.

वहीँ, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एचडी देवेगौड़ा को G-20 शिखर सम्मेलन के रात्रिभोज में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है. राजधानी दिल्ली में G-20 शिखर सम्मेलन के लिए जोरदार तैयारी की गई है.यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल का आगमन हुआ. केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल ने उनका स्वागत किया. यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन भी यहां पहुंच चुकीं हैं.