भ्रष्टाचार के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू गिरफ्तार

0
45

हैदराबाद : तेलुगु देशम पार्टी (TDP) के प्रमुख और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को कौशल विकास जुड़े करोंड़ों के घोटाले से जुड़े एक मामले में आंध्र प्रदेश के नंद्याल में पुलिस हिरासत में ले लिया गया है. इस गिरफ्तारी के बाद से शहर के आरके समारोह हॉल में तनाव हो गया. जहां नायडू रात के दौरान अपनी बस में रुके थे. नायडू की गिरफ्तारी से पहले बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी वहां पहुंचे.

TDP प्रमुख को भेजे गए नोटिस में लिखा है कि आपको सूचित किया जाता है कि धारा 120 (B), 166, 167, 418, 420, 465, 468, 471, 409 के तहत , 201, 109 आर/डब्ल्यू 34 और 37 आईपीसी और सीआईडी की धारा 12, 13 (2) R/W13 (1) (C) और (D) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1998 के तहत आपको गिरफ्तार किया जाता है. नोटिस के अनुसार, नायडू को जमानत पर रिहा नहीं किया जा सकता, क्योंकि यह एक गैर-जमानती अपराध है. नोटिस में कहा गया है कि वह केवल अदालत के माध्यम से जमानत मांग सकते हैं.

 

तेलुगु देशम पार्टी (TDP) के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने आंध्र प्रदेश के पूर्व CM एन चंद्रबाबू नायडू की अवैध गिरफ्तारी के खिलाफ तिरुपति के अन्नपूर्णा सरुकुलु केंद्र में विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है. कई जगह पर धरना प्रदर्शन हो रहे हैं और सड़कों पर आवाजाही प्रभावित हो गई है.

इससे पहले गिरफ्तारी स्थल पर पुलिस के पहुंचने की की सूचना मिलते ही TDP नेता और कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में कार्यक्रम स्थल पर जुट गये. तेलुगु देशम पार्टी के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच तीखी नोकझोंक, धक्का-मुक्की हुई. जब नायडू ने पूछा कि बिना किसी प्रथम दृष्टया सबूत के उन्हें कैसे गिरफ्तार किया जा सकता है, तो पुलिस ने उन्हें सूचित किया कि उन्होंने उच्च न्यायालय के समक्ष आवश्यक दस्तावेज पेश कर दिए हैं.

नायडू के वकीलों ने गिरफ्तारी से पहले सबूत पेश करने के लिए पुलिस से बहस की. पुलिस ने दावा किया कि रिमांड रिपोर्ट में सभी विवरण शामिल किए गए हैं. चंद्रबाबू नायडू ने पुलिस पर उनके मौलिक अधिकारों को कुचलने का आरोप लगाया. पुलिस का कहना है कि उन्होंने डीके बसु के केस के मुताबिक कार्रवाई की है.

पुलिस का कहना है कि वे 24 घंटे के भीतर गिरफ्तारी के कारणों के साथ दस्तावेज उपलब्ध करा देंगे. चंद्रबाबू ने कहा कि वकील बिना समझे काम कर रहे हैं, यानी पुलिस बिना समझे काम कर रही है. गिरफ्तारी से पहले पुलिस ने आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की बस को चारो तरफ से घेर लिया था.