पटाखा फैक्टरी के गोदाम में धमाका, नौ लोगों की मौत

0
57

तमिलनाडु : तमिलनाडु के कृष्णागिरी जिले में बड़ा धमाका हुआ है. जानकारी के अनुसार एक पटाखा फैक्टरी के गोदाम में शनिवार सुबह बड़ा धमाका हुआ. इस धमाके में तीन महिलाओं समेत नौ लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने यह जानकारी दी. धमाका इतना जोरदार था कि आसपास के इलाके भी दहल उठे. धमाके की आवाज सुनकर गांव वाले घटनास्थल की ओर भागे, तब तक फैक्टरी से आग की लपटे निकलने लगी थीं. यह घटना स्थानीय पझयापेट्टाई की है. जोरदार धमाके ने पलायपेट्टई के गांव को हिलाकर रख दिया है.

जानकारी के अनुसार पझयापेट्टाई में पटाखा फैक्टरी के गोदाम में अचानक विस्फोट होने की घटना में कई लोग घायल भी हुए हैं. पुलिस ने बताया कि विस्फोट के कारण आसपास कुछ दुकानें और मकान भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं. पुलिस और दमकल सेवा के कर्मी मौके पर पहुंचकर वहां आग बुझाने और घायलों को बाहर निकालने की कोशिश कर रहे हैं. अब तक 20 लोगों को इलाज के लिए कृष्णागिरी सरकारी अस्पताल ले जाया गया है. वे गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं. बहरहाल, इस दुखद घटना में जान गंवाने वालों में पटाखा गोदाम मालिक रवि (45), उनकी पत्नी जयश्री (40), रितिका (17), रितेश (15), इबरा (22), सिमरन (20), सरसु ( 50) और राजेश्वरी (50) शामिल हैं.

कृष्णागिरी के जिला कलेक्टर सरयू, पुलिस अधीक्षक सरोज कुमार टैगोर, कृष्णागिरी विधानसभा के सदस्य अशोक कुमार और राजस्व विभाग के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा ले रहे हैं. सरकारी अधिकारियों ने पीड़ितों को सहायता प्रदान करने के लिए व्यक्तिगत रूप से विस्फोट स्थल का दौरा किया. शुरुआती जांच में सामने आया है कि इस दिल दहला देने वाले हादसे के पीछे गैस सिलेंडर लीकेज हो सकता है.

सूत्रों से पता चलता है कि पटाखे की फैक्टरी का गोदाम 2020 से चालू था और इसके मालिक द्वारा हर साल नियमित रूप से इसका नवीनीकरण किया जाता था. वहीं, धमाके के बाद अफरा-तफरी मची और धमाका इतना जोरदार था कि सड़क पर जा रहे दो राहगीरों की भी विस्फोट में जान चली गई. अब कुल मिलाकर हादसे में नौ लोगों की मौत हुई है. इस हादसे से कृष्णागिरी के लोग सदमे में हैं. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहे हैं.