नशे में धुत पुलिसकर्मी ने भाई का सिर फोड़ दिया, विनेश फोगाट का आरोप

0
91

दिल्ली के जंतर-मंतर पर 12 दिन से धरना दे रहे पहलवानों के साथ पुलिस की झड़प की खबर है. धरना दे रही महिला पहलवानों ने बुधवार देर रात पुलिस पर मारपीट और बदसलूकी का आरोप लगाया है. इस दौरान विनेश फोगाट के भाई के सिर पर चोट आई है. पहलवान साक्षी मलिक ने आरोप लगाया है कि नशे में धुत एक पुलिसकर्मी ने उनसे बदतमीजी की. वहीं, विनेश फोगाट ने रोते हुए मीडिया को बताया कि शराब पीकर पुलिसकर्मी ने उन्हें गाली दी और उनके भाई का सिर फोड़ दिया.

मीडिया से बात करते हुए विनेश फोगाट ने रोते हुए कहा कि पुलिसवाले ने गाली-गलौच की. हमने फोल्डिंग मंगाई थी. इसपर पुलिसवाले ने आपत्ति जाहिर की. एक पुलिस वाले ने शराब पी रखी थी. उसने हमारे साथ मारपीट की. क्या हम ये दिन देखने के लिए देश के लिए मेडल लाए थे? पुलिस ने हमारी दुर्दशा की है. हमारा एक पहलवान घायल है. उसे अस्पताल नहीं ले जाने दे रहे हैं. इस बीच जंतर-मंतर पर भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता पहुंचे हैं. लेकिन पुलिस ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया है. किसानों की पुलिस के साथ नोकझोंक हुई. पुलिस ने जंतर-मंतर को पूरी तरह से सील कर दिया है.

NDTV के रिपोर्ट के अनुसार धरना दे रहे बजरंग पूनिया ने कहा कि दिल्ली में लगातार हो रही बारिश के कारण वे बेड लेकर आए थे. पुलिस ने इस पर आपत्ति जताई और इसे लेकर कहासुनी शुरू हो गई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, आम आदमी पार्टी नेता सोमनाथ भारती ने पहलवानों के लिए चारपाई की व्यवस्था की थी. इसके लिए दिल्ली पुलिस ने सोमनाथ भारती को हिरासत में ले लिया है. वहीं, गीता-बबीता की बहन और बजरंग पुनिया की पत्नी संगीता ने लोगों से दिल्ली पहुंचने की अपील की है. उन्होंने लिखा- “आस-पास के दिल्ली के लोग हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लोग जल्द पहुंचे !! हमारी बहन बेटियों की सुरक्षा जरूरी है.”

साक्षी मलिक के पेज से लाइव आकर उनके पति सत्यव्रत मलिक ने बताया कि बुधवार को बारिश की वजह धरना स्थल पर जमीन पर सोया नहीं जा सकता था. इसके कारण चारपाई और फोल्डिंग की व्यवस्था की गई थी. देर रात करीब साढ़े 10:45 बजे विनेश फोगाट अपनी बहन संगीता के साथ धरना स्थल से कुछ दूरी से चारपाई लेने जा रही थीं. तभी वहां नशे में धुत एक पुलिसकर्मी ने उनसे पूछा कि कहां जा रही हो. उन्होंने चारपाई लाने की बात कही, तो पुलिस ने विनेश से गाली-गलौज की.

फिर मारपीट भी की गई.वहीं, दिल्ली पुलिस ने पहलवानों के साथ मारपीट से इनकार किया है. पुलिस ने आधिकारिक बयान में कहा, “जंतर-मंतर पर धरने के दौरान आप नेता सोमनाथ भारती बिना परमिशन चारपाई लेकर धरना स्थल पर आ गये. बीच-बचाव करने पर समर्थक ट्रक से बेड निकालने की कोशिश में आक्रामक हो गए. इसके बाद, एक मामूली विवाद हुआ. सोमनाथ भारती समेत 2 अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है.