जानें कोरोना वाय’रस के क’हर से जुड़ी भारत की यह दस बातें..

0
1019

दुनियाभर में कोरोना वाय’रस से हुई मौ’तों में इज़ाफ़ा होता जा रहा है। इसकी च’पेट में आकर दुनियाभर में करीब 13 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौ’त हो चुकी है और दो लाख से ज़्यादा लोग संक्रमित पाए गए हैं। वहीं भारत में कोरोना वाय’रस से संक्रमित लोगों की संख्या 396 हो गई है और अभी तक सात लोगों की मौ’त हो चुकी है। आज पूरे देश में 81 नए मामले सामने आए हैं। इस वाय’रस के चलते सभी सरकारों ने बड़े बड़े फैसले लिए हैं। वहीं सभी राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ बैठक के बाद केंद्र सरकार ने देश के उन सभी 75 ज़िलों को लॉकडाउन करने का निर्णय लिया है।

इसके साथ साथ 31 मार्च तक सारे विमान और रेलगाड़ियों को भी बंद करने का फैसला भी लिया है। इसके साथ ही मेट्रो और बस सेवाएं भी 31 मार्च तक बंद कर दी गई है। इसी बीच केजरीवाल सरकार ने भी 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का फैसला भी लिया है। दूसरी तरफ यूपी की योगी सरकार ने भी 15 जिलों में लॉकडाउन करने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि “लॉकडाउन के दायरे में आने वाले जिलों में किसी भी तरह की कोई गतिविधि नहीं होगी। अगले 23 से 25 मार्च तक यह व्यवस्था यूपी में लागू रहेगी।” वहीं बिहार और जम्मू कश्मीर में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन की घोष’णा कर दी है।

जानिए, कोरोना वाय’रस से जुड़ी यह दस बातें…

दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वाय’रस के कार’ण सोमवा’र सुबह छह बजे से लेकर 31 मार्च तक दिल्ली में लॉकडाउन करने का फैसला लिया है। इस दौरान दिल्ली की सभी सेवाएं बंद रहेंगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट, प्राइवेट बसें, टैक्सी ऑटो रिक्शा यहां तक कि ई रिक्शा तक की सेवाएं बन्द होंगी। दूसरी यह कि केवल डीटीसी की 25 प्रतिशत बसें ही चलेंगी और साथ ही सारी दुकानें भी बंद रहेंगी। दिल्ली के सारे बॉर्डर भी सील कर दिए गए है जिसके कारण दिल्ली के बाहर का सामान दाखिल नहीं हो सकता। सिर्फ ज़रूरी सामान जैसे दूध फल सब्जी जैसे सामान के दिल्ली में दाखिल किए जाएंगे।

तीसरी यह कि यूपी के सीएम ने उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में लॉकडाउन करने का आदेश दिया है। इन जिलों में गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, लखनऊ जैसे और भी जिलें शामिल हैं। यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने कहा कि “लॉकडाउन के दायरे में आने वाले जिलों में किसी भी तरह की कोई गतिविधि नहीं होगी। अगले 23 से 25 मार्च तक यह व्यवस्था लागू रहेगी। हम इसके बारे में कल फिर समीक्षा करेंगे।” चौथी बात यह कि रविवा’र को पंजाब और उत्तराखंड सरकार ने भी कोरोना वाय’रस के कार’ण 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का निर्णय लिया है। इससे पहले राजस्थान ने भी लॉकडाउन की घोषणा की थी।

पांचवीं बात यह कि केंद्र सरकार ने कोरोना वाय’रस के चलते 75 जिलों में सिर्फ ज़रूरी सेवाओं को ही जारी रखने का आदेश जारी किया है। इन 75 जिलों में दिल्ली के सात जिलें भी शामिल हैं। साथ ही अधिकारियों ने कहा कि “अंतर राज्यीय बस सेवाएं भी 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया गया है।” वहीं रविवार को देशभर में इस वाय’रस से संक्रमित 45 नए मामले सामने आए हैं और तीन लोगों की मौ’त हो चुकी है। साथ ही गुजरात, बिहार और महारा’ष्ट्र में इस संक्रमित तीन लोगों की जान चली गई। जिसके बाद बिहार सीएम नीतीश कुमार ने भी लॉकडाउन की घोषणा कर दी।

सातवीं यह कि बिहार के हेल्थ सेक्रेटरी संजय कुमार ने कहा कि “हाल ही में कतर से लौटे एक 38 वर्षीय व्यक्ति की पटना एम्स मौत हो गई।” कहा जा रहा है कि मौत किडनी फेल होने की वजह से हुई थी और साथ ही व्यक्ति वाय’रस से भी संक्रमित था। उन्होंने कहा कि “मुंबई से एक 63 वर्षीय महिला की भी मौ’त की खबर मिली है।” आंठवी बात यह है कि सरकार ने 31 मार्च तक सभी रेलगाड़ियों पर भी रोक लगा दी है। इस लॉकडाउन के दौरान केवल मालगाड़ियां है चलाई जाएंगी और साथ ही साथ सारी मेट्रो सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं।

वहीं रविवा’र को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वाय’रस से बचने के लिए जनता कर्फ्यू लगाया था। साथ ही देशवासियों से डॉक्टरों और उन सभी कर्मचारियों की सराहना करने के लिए शाम पांच बजे तालियां बजाने को भी कहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि “कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लोग रविवा’र सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करें और इस संकट के दौर में भी काम कर रहे डॉक्टरों, पैरा मेडिकल कर्मी, पुलिस और अन्य जरूरी सेवाओं से जुड़़े कर्मियों की प्रशंसा के लिए शाम पांच बजे अपने घरों पर ताली, थाली और घंटी बजाकर उनका उत्साह बढ़ाएं।” दसवीं और आख़िरी बात यह है कि दुनियाभर में कोरोना वाय’रस के कार’ण करीब 13 हज़ार लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमित लोगों की संख्या दो लाख के आंकड़े को पार कर चुकी है।