कोरोना की तीसरी लहर से पहले सरकार का बड़ा फैसला, 39 तरह की दवाओं के होंगे…

0
18

कोरोना काल के दौरान हर किसी का नुकसान हुआ। देश की जनता लगातार बीमारियों की चपेट में आ रही थी। जिसके कारण आम आदमी का खर्चा दवाइयों में ज्यादा हो रहा था। जिसको मद्देनजर रखते हुए सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के चलते सरकार ने करीब 39 तरह की दवाओं को आवश्यक दवाओं की राष्ट्रीय सूची (NLEM) में शामिल कर लिया है। इसके चलते इन दवाओं के दाम जल्दी ही गिर जाएंगे। जानकारी के मुताबिक अलग-अलग बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली 39 तरह की दवाओं की कीमत अब कम हो जाएगी।

बताया जा रहा है कि इन दवाओं में कोरोना से लेकर कैंसर, डायबिटीज और टीबी जैसी बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाएं भी शामिल हैं। सरकार ने 39 तरह की दवाओं को आवश्यक दवाओं की राष्ट्रीय सूची (NLEM) में शामिल करने के साथ ही 16 दवाओं को इस लिस्ट से बाहर भी कर दिया है। जिसके चलते अब इन 16 तरह की दवाओं के दाम बढ़ने की संभावना है। बता दें कि इसका कारण सूची को सही से मेंटेन करना है। इस दौरान सूची ज्यादा लंबी न होने का भी ध्यान रखा जाता है।

जानकारी के अनुसार इस समय NLEM 2021 में 399 आवश्यक दवाओं के नाम मौजूद हैं। यानी सरकार की ओर से 399 दवाओं के दामों पर कंट्रोल रखा जा रहा है। देश में फिर एक बार कोरोना का खतरा मंडराने लगा है। जिसको देखते हुए सरकार लोगों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रख रही है और कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। कोरोना की दूसरी लहर ने देश में काफी तबाही मचाई है। जिसको देखते हुए वज्ञानिकों का मानना है कि कोरोना की तीसरी लहर देश को और भी ज्यादा नुकसान पहुंचा सकती है।