सांई बाबा पर विवादित बयान देकर फंसे बागेश्वर सरकार

0
106

शिवसेना (उद्धव गुट) युवा सेना के नेता राहुल कनाल ने पुलिस को पत्र लिखकर बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के शिरडी साईं बाबा पर दिए गए बयान को लेकर उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है।

पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने जबलपुर के पनागर में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के आखिरी दिन प्रबुद्ध जनों से संवाद करते हुए साईं बाबा पर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि गीदड़ की खाल पहनकर कोई शेर नहीं हो सकता।

बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने साईं बाबा को भगवान मानने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि साईं बाबा कोई भगवान नहीं हैं। वे संत और फकीर हो सकते हैं, लेकिन भगवान नहीं हो सकते।

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा कि कोई भी संत, वह चाहे गोस्वामी तुलसीदास हों या सूरदास जी हों, वे महापुरुष हैं, युग पुरुष हैं, कल्प पुरुष हैं, लेकिन भगवान नहीं हैं।

जब धीरेंद्र शास्त्री से पूछा गया कि साईं बाबा की पूजा करनी चाहिए या नहीं, इस पर उन्होंने कहा कि शंकराचार्य ने साईं बाबा को देवताओं का स्थान नहीं दिया है और शंकराचार्य की बात मानना, प्रत्येक सनातनी का धर्म है, क्योंकि वे अपने धर्म के प्रधानमंत्री हैं।

ब्रह्मलीन शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने साईं बाबा की पूजा और मंदिरों में उनकी प्रतिमा स्थापित करने का विरोध किया था। उन्होंने साईंबाबा को भगवान मानने से इनकार करते हुए मोमिनवंशी बताया था।