टिहरी में प्रेमचंद्र अग्रवाल के कार्यक्रमों के विरोध का ऐलान, कहा : जिले में नहीं घुसने देंगे

0
57

टिहरी :  राज्य आंदोलनकारियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजा है। ज्ञापन के माध्यम से राज्य आंदोलनकारियों ने सत्ताधीशों द्वारा निरंतर बढ़ते अत्याचार और भ्रष्टाचार के विरुद्ध महापंचायत-2 के साथ ही मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल की बर्खास्तगी की मांग की है।

मंच के अध्यक्ष ज्योति प्रसाद भट्ट ने कहा कि मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल विधानसभा भर्ती घोटाले में संलिप्त हैं। चुनाव आचार संहिता उल्लंघन, जर्मनी दौरे पर जाने से पूर्व अधिकारियों का स्थानांतरण करना, आदि आरोपों के बाद उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए था। किंतु इस सब के बावजूद भी वे संवैधानिक पद पर बने हैं, जिससे पता चलता है कि इस सरकार में उनका प्रभाव कितना है।

 

मंच के उपाध्यक्ष देवेंद्र नौडियाल ने कहा कि सुरेंद्र सिंह नेगी से सरेराह कैबिनेट मंत्री द्वारा की गई मारपीट मामले में उल्टा पीड़ित पक्ष को ही पुलिस के द्वारा परेशान किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि मंत्री पूरी जांच को प्रभावित कर रहे हैं और उनसे अभी तक किसी भी प्रकार की कोई पूछताछ नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल टिहरी जिले के प्रभारी मंत्री भी हैं और यदि उन पर सरकार के द्वारा शीघ्र कार्यवाही नहीं की गई तो उन्हें जिला मुख्यालय में घुसने नहीं दिया जाएगा और उनके किसी भी कार्यक्रम का पुरजोर विरोध किया जाएगा।

राज्य आंदोलनकारी और बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जय प्रकाश पांडे व मंच के पूर्व अध्यक्ष देवेन्द्र दुमोगा ने कहा कि पूर्व में 25 मई को सुरेंद्र सिंह नेगी एवं उनकी पत्नी द्वारा महापंचायत का आयोजन किया गया था जिसमें शीघ्र ही सरकार द्वारा मंत्री को बर्खास्त करने की अपील की गई थी किंतु सरकार पर इसका कोई असर पड़ता नहीं दिख रहा है,इसलिए महापंचायत-2 का आयोजन किया गया है जो 25 जून 2023 को वृहद स्तर पर देहरादून परेड ग्राउंड में आयोजित की जाएगी।

मंच के महासचिव किशन सिंह रावत, सचिव उत्तम तोमर एवं गोपाल चौहान ने कहा यदि शीघ्र ही सरकार पहाड़ी स्वाभिमान को ललकारने वाले उक्त मंत्री को बर्खास्त नहीं करती तो उनके खिलाफ पूरे प्रदेश भर में आंदोलन का बिगुल फूंका जायेगा।

ज्ञापन देने वालों में ज्योति प्रसाद भट्ट, देवेंद्र नौडियाल,किशन सिंह रावत,उत्तम तोमर,गोपाल चौहान, जय प्रकाश पांडे, देवेंद्र दुमोगा, गीताराम गैरोला, श्यामलाल शाह, विजयपाल रावत आदि उपस्थित थे।