शादी के बाद मैंने कभी अपना धर्म नहीं बदला – उर्मिला मातोंडकर

0
321

नई दिल्ली – बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर ने राजनीति की दुनिया में कदम रख दिया है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी का दामन थामा है और कांग्रेस ने भी लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर उन्हें मुंबई नॉर्थ सीट से पार्टी का उम्मीदवार घोषित कर दिया है। इसी के साथ उर्मिला ने कांग्रेस का ‘हाथ’ मजबूत करने के साथ ही, अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है। हालांकि इस दौरान उर्मिला मातोंडकर को सोशल मीडिया पर उनकी शादी को लेकर काफी ट्रोल किया जा रहा है। एक मुस्लिम से शादी को लेकर ट्रोल की जा रही उर्मिला ने ट्रोल करने वालों को करारा जवाब दिया है।’

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिए खास इंटरव्यू में उर्मिला मातोंडकर ने कहा, “मैंने कभी अपना धर्म नहीं बदला। मेरे पति उतने ही गर्वित मुसलमान हैं जितना कि मैं एक गौरवशाली हिंदू हूं।” उन्होंने आगे कहा, “यही तो हमारे देश की सुंदरता है और हमारी शादी की भी। मूल रूप से, ट्रोल करने वाले इस्लाम को एक विशेष रंग में रंगने की कोशिश कर रहे हैं, हालांकि मैं अपनी सोच के बारे में स्पष्ट हूं। ट्रोल्स ने साबित किया है कि वे किस स्तर तक जा सकते हैं।”

उर्मिला मातोंडकर ने इस दौरान बीजेपी के पांच साल के कार्यकाल को लेकर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा, “यह नफरत की राजनीति है। कोई भी पांच साल की प्रगति के बारे में बात नहीं कर रहा है। जो इस दौरान नहीं हुआ, जो सपने कभी सच नहीं हुए। वे केवल अंतरिक्ष की बात कर रहे हैं।।।।” राजनीति में आने को लेकर उर्मिला ने कहा, “सभी लोगों को लगता है कि राजनीति में एक ग्लैमर डॉल आ गई है। ये मेरे लिए अच्छा है। मैं बोलने के बजाय अपने काम से सबको जवाब देना चाहूंगी। गांधीजी ने कहा कि आप दुनिया में जिस बदलाव को देखना चाहते हैं, वह बन जाइए।”

उर्मिला मातोंडकर ने कहा, “पिछले पांच साल में, ऐसे कई उदाहरण हैं जहां मुझे लगा कि एक नागरिक के रूप में मुझे अपनी आवाज उठानी चाहिए थी, लेकिन मैंने ऐसा नहीं किया। मेरे इंडस्ट्री (बॉलीवुड) में लोग बेहद कमजोर हैं। ऐसे कई उदाहरण हैं जहां लोगों को देश-विरोधी कहा गया है, दूसरे देश में जाने के लिए कहा गया, उनकी देशभक्ति पर सवाल उठाए गए क्योंकि उन्होंने अपने बच्चों की भलाई का मुद्दा उठाया था। मुझे लगता है कि यह पूरी तरह से अस्वीकार्य और भयावह है।”