जयपुर में ही हुई थी 1300 करोड़ रुपये के पासवर्ड के साथ सीईओ की मौत

0
115

भारत में ही कनाडा की एक क्रिप्टोकरेंसी कंपनी क्वाड्रिगासीएक्स के 30 वर्षीय सीईओ गेराल्ड कोटेन की मौत हुई है। 190 मिलियन डॉलर (करीब 1300 करोड़) कीमत की करेंसी का पासवर्ड भी सीईओ की मौत के साथ ही उसी के साथ चला गया है। केवल सीईओ को ही ये पासवर्ड याद था। गेराल्ड की मौत को लेकर कुछ लोगों का कहना था कि इस बात का क्या सबूत है कि उनकी मौत भारत में ही हुई है, लेकिन अब जयपुर के एक अस्पताल ने इसकी पुष्टि कर दी है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार भारत में ही गेराल्ड की मौत हुई है। गेराल्ड की मौत बीते साल 9 दिसंबर को कार्डिक अरेस्ट से हो गई थी। उन्होंने अपनी मौत से एक दिन पहले जयपुर के फोर्टीस एस्कोर्ट अस्पताल में पूरा दिन बिताया। वह आंत संबंधी बीमारी से पीड़ित थे और एक अनाथाल्य खोलने के लिए जयपुर आए थे। वह अपनी पत्नी जेनिफर रॉबर्टसन के साथ अस्पताल आए थे। यह बात दस्तावेजों में कही गई है। गेराल्ड 8 दिसंबर, 2018 को अस्पताल में भर्ती हुए थे।

अस्पताल के अधिकारियों के अनुसार गेराल्ड कोटेन जब अस्पताल में भर्ती हुए थे तब उन्हें सेप्टिक शॉक, परफोरेशन, पेरिटोनिटिस और आंतों की बीमारी थी। उन्होंने बताया कि गेराल्ड को और भी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। उन्होंने उल्टी और दर्द की भी शिकायत की थी। उन्हें बुखार महसूस हो रहा था। उनकी स्थिति लगातार खराब होती जा रही थी और 7.26 बजे मौत से पहले उन्हें कार्डिक अरेस्ट आया था। फोर्टिस एस्कोर्टस अस्पताल की प्रवक्ता प्रज्ञा शर्मा ने गेराल्ड के अस्पताल में भर्ती होने और मौत की पुष्टि की है।

10 दिसंबर, 2018 को जयपुर पुलिस ने गेराल्ड की पत्नी को नो ऑबजेक्शन नोटिस (एनओसी) दिया था। ताकि गेराल्ड का शव उनके कनाडा के नेवा स्कोटिया स्थित घर ले जाया जा सके। स्थानीय नगरपालिका द्वारा गेराल्ड का डेथ सर्टिफिकेट भी जारी किया गया था। गेराल्ड की मौत के साथ ही उस अकाउंट का पासवर्ड भी उनके साथ चला गया है, जिसमें उनकी संपत्ति थी। टॉप सिक्योरिटी एक्सपर्ट भी पासवर्ड को अनलॉक करने में असमर्थ हैं, जिससे लोगों के करोड़ों रुपये डूब गए हैं। यहां तक कि मृतक की पत्नी को भी पासवर्ड याद नहीं है।