हिन्दूवादी नेता मिलिंद एकबोटे के साथ मारपीट

0
170

पुणे – भीमा कोरेगांव हिंसा में आरोपी मिलिंद एकबोटे पर मंगलवार को पुणे में 40 से ज्यादा लोगों ने कथित तौर पर हमला कर दिया। पुलिस ने 40 से ज्यादा अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है लेकिन पुलिस को शक है कि हमले के पीछे कुछ गौरक्षों का हाथ है।

एकबोटे मंगलवार रात को पुणे के सासवड में एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। आरोप है कि इसी दौरान 40-45 लोगों ने उन्हें घेर लिया और उन्हें कार से निकालकर उनके साथ हाथापाई की। मिलिंद एकबोटे पर डंडे, पत्थर और मिर्ची पाउडर से हमला किया। हमले में मिलिंद के साथ उनके कुछ समर्थकों को भी चोट आई है। महाराष्ट्र के पुणे जिले के भीमा-कोरेगांव क्षेत्र में एक जनवरी, 2018 को भड़की जातीय हिंसा के मामले में मिलिंद एकबोटे आरोपी हैं और इस समय जमानत पर हैं।

मिलिंद एकबोटे 1997 से लेकर 2002 तक भाजपा का पार्षद रहे हैं। बाद में वो भाजपा से अलग हो गए और हिंदू एकता मंच नाम का संगठन चला रहे हैं। एकबोटे ने 2014 महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में शिवसेना के टिकट पर चुनाव भी लड़ा था, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा। एकबोटे पर दंगा भड़काने, अतिक्रमण, आपराधिक धमकी और दो समुदायों के बीच शत्रुता फैलाने के प्रयासों के कुल एक दर्जन से ज्यादा मामले चल रहे हैं।