वी के सिंह विपक्ष को हवाई जहाज में बांधकर क्यों ले जाना चाहते हैं ?

0
112

नई दिल्ली – केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की संख्या को लेकर उठे सवालों के बीच कहा है कि अगली बार सवाल उठाने वाले विपक्ष के लोगों को साथ ले जाना चाहिए।

उन्होंने कहा, ”अगली बार जब भारत कुछ करे तो मुझे लगता है कि विपक्षी जो ये प्रश्न उठाते हैं, उनको हवाई जहाज के नीचे बांधकर ले जाएं। जब बम चले तो वहां से देख लें टारगेट, उसके बाद उनको वहीं पर उतार दें, उसके बाद वो गिन लें और वापस आ जाएं।”

वीके सिंह ने एक तंज भरा ट्वीट भी किया है। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा, ”रात 3:30 बजे मच्छर बहुत थे तो मैंने HIT मारा। अब मच्छर कितने मारे, ये गिनने बैठूं या आराम से सो जाऊं?”

इससे पहले हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज ने अपने एक ट्वीट में लिखा, ”अगली बार भारत जब पाकिस्तान में छिपे आतंकवादियों पर बम गिराए तो महागठबंधन के किसी नेता को नीचे खड़ा कर देना चाहिए ताकि वह लाशें खुद गिन सकें।”

बालाकोट एयर स्ट्राइक को लेकर सरकार से जानकारी मांगने वाले विपक्षी नेताओं की बात करें तो टीएमसी चीफ ममता बनर्जी ने 28 फरवरी को सरकार से कहा था कि वह इस एयर स्ट्राइक की जगह के बारे में डीटेल्स दे। इसके साथ ही ममता ने इस एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की संख्या के बारे में भी पूछा था।

उन्होंने कहा था, ”हमें जानने का अधिकार है। लोग जानना चाहते हैं कि कितनी मौतें हुईं। वास्तव में बम किस जगह गिराया गया? क्या यह टारगेट पर गिरा?” इस दौरान ममता ने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया का कहना है कि इस स्ट्राइक में कोई भी नुकसान नहीं हुआ है।

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भी इस स्ट्राइक में हताहतों की संख्या को लेकर सवाल उठाया था। उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा था, ”भारतीय वायुसेना के वाइस एयर मार्शल ने हताहतों पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया कि कोई नागरिक या सैनिक हताहत नहीं हुआ। तो हताहतों की संख्या 300-350 किसने बताई?”