वाईएसआर कांग्रेस में शामिल हुए टीडीपी सांसद रविंद्र बाबू

0
359

अमरावती – आंध्र प्रदेश के अमलापुरम से सांसद पांडुला रविंद्र बाबू तेलुगू देशम पार्टी छोड़ने के बाद सोमवार को वाईएसआर कांग्रेस में शामिल हो गए। लोकसभा की अपनी सदस्यता से भी रविंद्र बाबू ने इस्तीफा दे दिया है। बाबू का पार्टी में वाईएसआर कांग्रेस के मुखिया जगनमोहन रेड्डी ने स्वागत किया। एक सप्ताह के भीतर एन चंद्रबाबू नायडू के नेतृत्व वाली आंध्र प्रदेश की सत्तारूढ़ तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) से ये दूसरे सांसद का इस्तीफा है। वाईएसआर कांग्रेस आंध्र प्रदेश में मुख्य विपक्षी दल है।

पूर्वी गोदावरी जिले में अमलापुरम (सुरक्षित) संसदीय क्षेत्र से रविंद्र बाबू सांसद चुने गए थे। आगामी लोकसभा चुनाव में अमलापुरम से बाबू का टिकट काटे जाने की चर्चा थी, जिसे उनकी पार्टी छोड़ने की वजह बताया जा रहा है। बाबू ने वाईएसआर कांग्रेस में आने को अपनी घर वापसी बताया है। वहीं बाबू ने मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य के दर्जे पर कई बार पलटने और विशेष आर्थिक पैकेज के नाम पर राज्य की जनता को धोखा देने का आरोप लगाया है।

बीते हफ्ते तेदेपा के अनाकापल्ली से सांसद एम श्रीनिवास राव भी पार्टी से इस्तीपा देकर वाईएसआर में शामिल हो गए थे। चिराला से तेदेपा विधायक अमनची कृष्ण मोहन भी हाला ही में जगनमोहन रेड्डी की वाईएसआर में शामिल हुए हैं।