अब एक साइंटिस्ट ने किया पद्म भूषण लौटाने का ऐलान

0
165

साहित्यकारों और फिल्मकारों के पुरस्कार लौटाए जाने के सिलसिले के बीच अब एक वैज्ञानिक ने पद्म भूषण लौटाने का ऐलान किया है। वैज्ञानिक पीएम भार्गव का कहना है कि तर्कवाद, विचार और विज्ञान पर हमले के विरोध में मैं अवार्ड वापस कर रहा हूं।
सेंटर फॉर सेलुलर एंड मॉलिक्यूलर बायलॉजी (सीसीएमबी) के संस्थापक भार्गव ने कहा कि मैं मोदी सरकार में धर्म के आधार पर देश को विभाजित करने की सांप्रदायिक और अलगाववादी तत्वों की कोशिशों को प्रश्रय देने के विरोध में मैं इस्तीफा दे रहा हूं।
पी एम भार्गव ने कहा कि इस वक्त हमारे देश में जो व्यवस्था है, बीजेपी की गवर्नमेंट जो RSS कहता है, वही करती है। आरएसएस हिंदुत्व की लाइन पर चल रहा है, इसीलिए मैंने अवार्ड वापस करने का फैसला किया है। 1996 में मुझे  जैल सिंह से अवार्ड मिला था।
भार्गव ने कहाकि अवार्ड रिटर्न करने से देश की छवि उतनी नहीं ख़राब होती जितनी और चीजों से होती है। क्या जो भागवत साहब कहते हैं उससे देश की छवि नहीं ख़राब होती? उन्होंने अभी कुछ दिन पहले ही कहा था कि शादी एक कॉन्ट्रैक्ट होती है जिसमें महिला घर संभालने का काम करती है। क्या महिलाओं का सिर्फ यही काम है?