इजरायली PM के भारत दौरे का विरोध कर रहे शिया धर्मगुरु

0
43

भारत और इजरायल के संबंध दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के आपसी रिश्तों और समझपूर्ण विदेश नीति की बदौलत मजबूत हो रहे हैं। लेकिन भारत में छह दिवसीय यात्रा पर आये इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की यात्रा का विरोध शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने किया है।

कल्बे जव्वाद ने कहा है कि इसराइल भरोसे के लायक देश नहीं है और उनके भारत दौरे का विरोध किया जाना चाहिए। शिया मौलाना के मुताबिक पूरी दुनिया में इजराइल, अमेरिका और सऊदी अरब के गठजोड़ ने आतंकवाद फैलाया है। भारत में न सिर्फ इसका विरोध होना चाहिए बल्कि इजराइल से संबंधों को तवज्जो भी नहीं दी जानी चाहिए।

वहीं दूसरी ओर सुन्नी धर्मगुरु और लखनऊ में नगर काजी फिरंगी महली ने इस मुद्दे पर चुप्पी साध ली है और खामोश रहना ही बेहतर समझा है। फिरंगी महली ने कहा कि वह इस मामले पर खामोश हैं और कुछ नहीं बोलेंगे।

बता दें कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू छह दिवसीय भारत यात्रा पर आ चुके हैं। रविवार को जब नेतन्याहू दिल्ली में उतरे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रोटोकॉल तोड़कर उनकी आगवानी के लिए एयरपोर्ट पर मौजूद थे। इससे पहले जब जुलाई पीएम मोदी ने इजरायल का दौरा किया था तो वहां भी इजरायली पीएम ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here