भाजपा भगाओ महारैली से लालू की मुश्किलें बढ़ीं, खर्च पर आई टी की नोटिस

0
7

पटना। आरजेडी प्रमुख लालू यादव की मुश्किलें घटने की बजाय बढ़ती ही जा रही है। नए घटनाक्रम में आयकर विभाग ने नोटिस जारी कर पटना की भाजपा भगाओ महारैली में खर्च हुए धन के स्रोत के बारे में पूछताछ किया है।

आयकर विभाग ने पटना के गांधी मैदान में रविवार को आयोजित लालू प्रसाद यादव की विशाल रैली में अनाप-सनाप खर्च को लेकर स्पष्टीकरण देने को कहा है साथ ही आयकर विभाग ने पूछा है कि आयोजित रैली के लिए पैसा कहां से जुटाया गया।

लालू प्रसाद की इस भाजपा भगाओ-देश बचाओ महारैली में लालू यादव और उनके परिवार के अलावा शरद यादव, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, गुलाम नबी आजाद, सीपीआई नेता डी राजा, कांग्रेस के हनुमंत राव, डीएमके के एलांगोवन, एनसीपी के तारिक अनवर आदि सशीट बड़ी संख्या में नेता पहुंचे थे। रैली में हिस्सा लेने के लिए आरजेडी के जो भी समर्थक पटना पहुंचे थे, उनके रहने और खाने पीने का इंतजाम पार्टी के 80 विधायक, सात पार्षद और तीन सांसदों के जिम्मे था।

लालू की रैली में काफी पैसा खर्च किया गया था। वहीं, सुरक्षा के लिहाज से इस रैली के लिए तकरीबन 7000 पुलिस के जवानों और 1000 मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई थी। इससे पहले मंगलवार को आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय की संयुक्त टीम ने लालू के छोटे बेटे और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से घंटों बेनामी संपत्ति के मामले में पूछताछ की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here