कलियुगी बाबा रामपाल दो मामलों में बरी, हत्या और देशद्रोह का केस चलता रहेगा

0
14

हिसार। दो साध्वियों से बलात्कार के मामले में डेरा सच्चा सौदा के मुखिया राम रहीम को 20 साल की सजा मिलने के बाद आज हरियाणा के स्वंयभू संत रामपाल पर हिसार की जिला अदालत ने अपना फैसला सुनते हुए रामपाल को केस नंबर 426, 427 में बरी कर दिया। हालांकि अभी भी रामपाल जेल में ही रहेगा क्योंकि उस पर हत्या और देश द्रोह का भी आरोप है, जिन पर सुनवाई जारी रहेगी।

बता दें कि रामपाल पर केस नंबर 426 में सरकारी कार्य में बाधा डालने और 427 में आश्रम में जबरन लोगों को बंधक बनाने का केस दर्ज था। अर्थात लोगों को बंधक बनाना और सरकारी काम में बाधा डालने जैसे आरोपों से रामपाल को बरी किया गया है।

हिसार जेल में बंद रामपाल पर 2006 में हत्या का केस दर्ज हुआ था। बरवाला के सतलोक आश्रम के प्रमुख रामपाल को 2014 में हिसार के बरवाला विवाद के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था।

रामपाल की हिसार कोर्ट में पेशी के दौरान भारी तादाद में रामपाल के समर्थक पहुंच जाते थे, जिससे पुलिस को कानून व्यवस्था बनाए रखने और इन लोगों को काबू करने में काफी मशक्कत करनी पड़ती थी। इसी वजह से हिसार की सेंट्रल जेल में ही एक स्पेशल कोर्ट बनाकर इन मामलों की सुनवाई चल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here