सीनियर खिलाड़ियों के बारे में सोचने के लिए कुछ समय और चाहिए – रवि शास्त्री

0
12

नई दिल्ली – रवि शास्त्री के रूप में टीम इंडिया को नया हेड कोच मिल चुका है। शास्त्री के हेड कोच बनते ही सबसे ज्यादा चर्चा दो बातों को लेकर हो रही है, कि उनको कोच चुने जाने को लेकर क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का क्या रुख था और दूसरी ये कि सीनियर खिलाड़ी महेंद्र सिंह धौनी और युवराज सिंह को लेकर शास्त्री क्या करने वाले हैं।

इंडिया टुडे से शास्त्री ने कोच बनने के बाद बातचीत में इन दोनों ही मुद्दों पर अपनी बात रखी। उन्होंने इस दौरान साफ किया कि गांगुली और उनके बीच कोई मनमुटाव नहीं है, जबकि सीनियर खिलाड़ियों के बारे में सोचने के लिए कुछ समय और चाहिए। आपको याद दिला दें कि रवि शास्त्री के टीम मैनेजर के कार्यकाल के दौरान ही महेंद्र सिंह धौनी ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा था।

महेंद्र सिंह धौनी और युवराज सिंह जैसे क्रिकेटरों के फ्यूचर पर शास्त्री से जब पूछा गया, तो उन्होंने कहा की, वर्ल्ड कप 2019 को अभी काफी समय है। ये दोनों ही चैंपियन क्रिकेटर हैं। समय आने पर हम इससे निबट लेंगे। मैं फिर से ड्रेसिंग रूम का हिस्सा बनने जा रहा हूं इसलिए मुझे कप्तान के साथ कुछ समय बिताने और चीजों को आगे बढ़ाने के लिए कुछ समय चाहिए।’

कोच नियुक्त करने वाली क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सदस्य सौरव गांगुली के साथ कड़वे संबंधों के बारे में पूछे जाने पर शास्त्री ने कहा, ‘हम दोनों ही पूर्व कप्तान हैं और जिरह होगी, लेकिन हमें बड़े परिदश्य पर गौर करना चाहिए। उन्होंने (गांगुली) मेरे इंटरव्यू के दौरान कुछ अच्छे सवाल किए। हमें आगे बढ़ना होगा। व्यक्ति महत्व नहीं रखता और हम सभी को भारतीय क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ हित में काम करना चाहिए। ये ही सेंटर प्वॉइंट होना चाहिए।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here