अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव : डोनाल्ड ट्रंप ने चौंकाया, हिलेरी क्लिंटन पिछड़ीं

0
8

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप ने सभी को चौंकाते हुए एक्ज़िट पोलों के मुताबिक महत्वपूर्ण राज्यों फ्लोरिडा, उत्तरी कैरोलिना तथा ओहायो में जीत हासिल कर ली है, और डेमोक्रेट प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन के मुकाबले व्हाइट हाउस की दौड़ में आगे दिख रहे हैं.
यूएस नेटवर्क्स की भविष्यवाणी के मुताबिक, अमेरिका के 240 साल के इतिहास में प्रथम महिला राष्ट्रपति बनने का सपना देख रहीं डेमोक्रेट प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन को ज़ोरदार झटके देते हुए रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप प्रमुख राज्य ओहायो के बाद फ्लोरिडा और उत्तरी कैरोलिना में भी जीत हासिल करने जा रहे हैं. इन एक्ज़िट पोलों पर यकीन करें तो 18 राज्यों में डेमोक्रेट प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन को जीत हासिल होने जा रही है, जबकि रिपब्लिकन डोनाल्ड ट्रंप को 25 राज्यों में जीत मिलेगी.
भारतीय समयानुसार सुबह 11:00 बजे, एक्ज़िट पोल के मुताबिक रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप के पास 244 इलेक्टोरल कॉलेज वोट थे, जबकि डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन के पास 215 वोट थे. राष्ट्रपति पद पर काबिज होने के लिए प्रत्याशी को 270 इलेक्टोरल कॉलेज वोट हासिल करना ज़रूरी है.
एक्ज़िट पोलों के अनुसार, ऊटा, आयोवा, फ्लोरिडा, उत्तरी कैरोलिना, दक्षिणी कैरोलिना, केन्टकी, वेस्ट वर्जीनिया, इंडियाना, ओकलाहोमा, टेनेसी, अलाबामा, मिसीसिपी, टेक्सास, कन्सास, व्योमिंग, उत्तरी डकोटा, दक्षिणी डकोटा, अरकान्सास, नेब्रास्का, लूसियाना, मोन्टाना, ओहायो, मिसूरी, जॉर्जिया तथा इदाहो में ट्रंप को जीत मिली, जबकि हिलेरी क्लिंटन को वरमॉन्ट, डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया, मैसाच्यूसेट्स, मेरीलैंड, डेलावर, इलिनॉयस, रोड आईलैंड, न्यूजर्सी, न्यूयार्क, कनेक्टिकट, न्यू मैक्सिको, वर्जीनिया, कोलोराडो, कैलिफोर्निया, ओरेगॉन, वॉशिंगटन, नेवाडा तथा हवाई में जीत मिली है.
गौरतलब है कि चुनाव से पहले रॉयटर / आईपीएसओएस के राष्ट्रीय ट्रैकिंग पोल में हिलेरी क्लिंटन को ट्रंप पर बढ़त मिली हुई थी. रॉयटर / आईपीएसओएस के पोल के मुताबिक हिलेरी क्लिंटन के जीतने की संभावनाएं 90 फीसदी हैं.
हालांकि ट्रंप ने मंगलवार को एक बार फिर चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए परिणामों को स्वीकार नहीं करने की बात कही. उन्होंने कुछ जानकारी दी. हालांकि रॉयटर्स तत्काल ऐसी समस्याओं की सत्यता को प्रमाणित नहीं कर सकती.
एक-एक वोट के लिए डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन और उनके रिपब्लिकन प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रंप ने आखिरी क्षणों में अमेरिकी जनता के समक्ष जोरदार बहस की. उन्होंने विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के लिए अपनी दूरदृष्टि पेश की. इस तरह, अमेरिका के इतिहास में अब तक का सबसे निम्न स्तरीय चुनाव प्रचार अभियान समाप्त हो गया.
नार्थ कैरोलीना के राले में एक विशाल रैली में हिलेरी (69) के साथ उनके पति भी थे. वहां पॉप गायिका लेडी गागा ने लोगों का मनोरंजन भी किया. ट्रंप (70) का आखिरी कार्यक्रम मिशिगन में हुआ, जहां उन्होंने अपने हजारों समर्थकों को इस उम्मीद के साथ संबोधित किया कि वह इस राज्य को रिपब्लिकन पार्टी की झोली में डालने में सक्षम हो सकते हैं.
दोनों रैलियां स्थानीय समय के मुताबिक रात एक बजे खत्म हुई थी. इस तरह ईस्ट कोस्ट में मतदान केंद्र खुलने से ठीक छह घंटे पहले ये खत्म हुई.
न्यू हैम्पशायर के एक गांव में पहला वोट पड़ा, चुनाव के दिन पारंपरिक रूप से वोट डालने वाला राष्ट्र में यह पहला स्थान है जहां हिलेरी ने जीत हासिल की. हिलेरी ने 2016 के चुनाव में न्यू हैम्पशायर के दूर दराज के डिक्सविले नोश में आधी रात के शीघ्र बाद पहली जीत ट्रंप को मिले दो वोट के खिलाफ चार वोटों से हासिल की.
270 निर्वाचक मंडल वोट हासिल करने के लिए अरीजोना (11), फ्लोरिडा (29), नेवादा (6), नेब्रास्का दूसरा कांग्रेस जिला (1), न्यू हैम्पशायर (4) और नार्थ कैरोलीना (15) मुख्य रणक्षेत्र हैं.
देश का 45 वां राष्ट्रपति चुनने के लिए सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस सदस्यों, प्रांतीय विधायिकाओं के सदस्यों और स्थानीय निकायों के सदस्यों के अलावा करीब 20 करोड़ लोग वोट डालने के योग्य हैं.
अमेरिकी चुनाव प्रणाली के ‘पहले ही मतदान करने’ के प्रावधान का इस्तेमाल करते हुए रिकार्ड 4.2 करोड़ लोग पहले ही वोट डाल चुके हैं. यह 2012 के आंकड़े को पार कर गया है जब 3.23 करोड़ लोगों ने पहले ही वोट डाला था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here