उरण में संदिग्धों के लिए घर-घर जाकर तलाशी

0
10

मुंबई। मुंबई के निकट उरण कस्बे में गुरुवार को देखे गए चार-पांच हथियारबंद संदिग्ध लोगों की तलाश शुक्रवार को भी जारी रही। नवी मुंबई पुलिस ने दो प्रत्यक्षदर्शी छात्र-छात्राओं की निशानदेही पर दो संदिग्धों के स्केच भी जारी किए हैं।
मुंबई से करीब 47 किलोमीटर दूर उरण एवं उसके पड़ोसी कारंजा कस्बे में एनएसजी एवं महाराष्ट्र पुलिस के विशेष बल फोर्स वन की टीमें घर-घर जाकर तलाशी अभियान चलाती रहीं। नौसेना के सीकिंग हेलीकॉप्टर शुक्रवार को भी दोपहर तक आसमान में चक्कर लगाते देखे गए।
छोटे से कस्बे उरण में स्टेशन से स्कूल, कोर्ट एवं बाजार तक कदम-कदम पर हथियारबंद पुलिस बल सुरक्षा में तैनात दिखाई दिए। कस्बे के स्कूल आज भी बंद रहे। नौसेना ने गुरुवार से ही अपने जवानों को उच्चस्तरीय अलर्ट पर रखा है।
उरण, कारंजा सहित मुंबई में भी जगह-जगह नाकेबंदी कर वाहनों की तलाशी ली जा रही है। गुरुवार की सुबह 6.30 बजे उरण एजूकेशन सोसायटी स्कूल में पढ़नेवाले नौवीं कक्षा के एक छात्र ने सबसे पहले काले पठान सूट में एक हथियारबंद व्यक्ति को देखा था।
इसके करीब 20 मिनट बाद उसी स्कूल में पढ़नेवाली दसवीं की एक छात्रा ने भी काले पठान सूट में ही पीठ पर बैग लादे पांच हथियारबंद लोगों को देखा। लड़की के अनुसार इन व्यक्तियों ने नकाब बांध रखा था और स्कूल एवं ओएनजीसी का नाम ले रहे थे।
संदेह होने पर छात्रा ने व्यक्तियों के बारे में अपनी क्लास टीचर को सूचित किया। क्लास टीचर ने प्राचार्या को बताया।
बच्चों से सूचना मिलने के बाद ही नेवी ने उच्चस्तरीय अलर्ट जारी कर दिया था एवं तटीय सुरक्षा से संबंधित सभी एजेंसियों ने चौकसी बरतनी शुरू कर दी थी। महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक सतीश माथुर सभी एजेंसियों से बराबर संपर्क में रहे।
आज उन्हें अपनी रिपोर्ट राज्य के अतिरिक्त गृह सचिव के.पी.बख्शी को सौंपनी थी। हालांकि खबर लिखे जाने तक यह रिपोर्ट नहीं सौंपी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here