महाराष्ट्र के कृषि मंत्री सब्जियों से भरे 300 ट्रक लेकर मंडी पहुंचे

0
7

मुंबई। महाराष्ट्र के किसानों के उत्पादन सीधे बाजारों और ग्राहकों को बेचने को लेकर निर्णय लिये जाने के बाद मंगलवार को राज्य के कृषि मंत्री भाउ साहेब खोत महाराष्ट्र के अलग-अलग जिले से तकरीबन 300 से भी जादा साग-सब्जियों से भरे ट्रक लेकर मुंबई के दादर मार्केट पहुंचे। गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले से सीधे तौर पर किसानों को बड़ी राहत मिल सकती है। सरकार ने किसानों को फल और सब्जियां ग्राहकों तक सीधे बेचने का रास्ता अब मंत्री जी के पहल के बाद खोल दिया है।
किसानों का मानना है कि किसानों का उत्पादन सीधे बाजार लाकर या ग्रहाकों को बेचने से किसानों के घर खुशहाली आएगी क्योंकि यहां उनकी कमाई पर डंक मारनेवाला कोई बिचौलिया नहीं होगा। सुबह 5 बजे मुंबई के दादर सब्जी मंडी में महाराष्ट्र सरकार के इस निर्णय पर अपनी मुहर खुद लगाने के लिये कृषि मंत्री भाउसाहेब खोत किसानों को उत्पादित साग-सब्जी सीधे ग्राहकों को बेचते दिखाई दिए।
सरकार का मानना है कि इस पहल के बाद किसानों को अपने उत्पाद का सही दाम मिल सकेगा। जिससे उनकी आमदनी भी बढ़ेगी और विश्वास भी। मौजूदा हालात में किसानों के उत्पादों को बेचने के लिए नवी मुंबई के APMC अर्थात सरकारी मंडी का ही सहारा लिया जाता है। जहां 7.5 से 10 प्रतिशत तक दलाली देने के बाद किसान को पैसे मिलते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार की पॉलिसी के तहत महाराष्ट्र सरकार ने किसानों को अपना माल खुले बाजार में बेचने की छूट देने के तहत इस तरह का यह खास निर्णय लिया है।
मंगलवार को मुंबई के दादर मार्केट में कृषि मंत्री के साथ भले ही किसान पूरी सुरक्षा व्यवस्था के साथ आकर अपने उत्पादों को बेचने की प्रक्रिया शुरू कर चुके हों लेकिन ये पहल आनेवाले दिनों में क्या इसी तरह टिक सकेगी ये गौर करनेवाली बात होगी। दादर के कई बड़े सब्जी विक्रेता का संबंध अन्य सब्जी मार्केट से है, जो रोजाना वहां से सब्जियां खरीदकर यहां बेचते हैं। ऐसे में किसानों के उत्पादन के सस्ते दाम एक तरफ और दूसरी तरफ बड़े विक्रेताओं के दामों को लेकर नोक-जोंक भी हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here